Breaking News
Home » मध्य प्रदेश » ग्वालियर » ग्वालियर- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” पर कार्यशाला सम्पन्न

ग्वालियर- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” पर कार्यशाला सम्पन्न

ग्वालियर- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” पर कार्यशाला सम्पन्न
ग्वालियर- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” पर कार्यशाला सम्पन्न
ग्वालियर- बेटी बचाओ बेटी पढाओ कार्यक्रम योजनांतर्गत प्रस्फुटन एवं ग्राम तदर्थ समितियों के उन्मुखीकरण हेतु एक दिवसीय कार्यशाला संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष भोपाल, म.प्र., जिला महिला सशक्तिकरण, महिला एवं बाल विकास विभाग, ग्वलियर के सहयोग से धरती संस्था द्वारा किया गया।
इस कार्यक्रम में श्री सुरेश तोमर क्षेत्रिय समन्वयक, महिला संसाधन केन्द्र महिला एवं बाल विकास विभाग, श्री डॉ एस.एस जादौन जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, श्री शालीन शर्मा जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी, श्रीमति निधि तिवारी संभागीय समन्वयक धरती संस्था उपस्थित थे।
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के लिए किये गए पिछले एक वर्ष मे धरती संस्था द्वारा म.प्र. के चार जिलो मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, एवं दतिया मे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत गिरते हुए शिशु लिंगानुपात में सुधार व महिला उत्पीड़न के रोकथाम की दिशा में शासन-प्रशासन के साथ मिलकर जो कार्य किये गए उन कार्यो के बारे मे बताया गया। उसके बाद आगामी कार्यक्रम “साथिया” के बारे मे विस्तार से बताया गया जिसमे ग्राम स्तर पर साथिया बनाने के लिए कहा गया जो ग्राम के ही किशोर एंव किशोरी होंगे।
कार्यक्रम का संचालन बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के जिला समन्वयक श्री गौरव शर्मा ने किया। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अन्तर्गत उन्मुखीकरण हेतु एक दिवसीय कार्यशाला मे ग्राम स्तरीय तदर्थ समितियो, प्रस्फुटन समितियो, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा कार्यकर्ता कार्यक्रम मे उपस्थित रहीं ।

Check Also

कृषकों ने खेत दिवस मनाकर किसानों को दी जैविक खाद की जानकारी

किसानों को खेतों में (प्रदर्शन प्लाट) लेजाकर मिट्टी के सूक्ष्म तत्वों खाद की मात्रा आदि की जानकारी दी गई। कृषि वैज्ञानिक द्वारा संतुलित मात्रा में उर्वरकों का प्रयोग करने, मिट्टी परीक्षण कराने की जानकारी देते हुए जैविक खाद व पोटास खाद के महत्व को बताया गया। जिस किसान के खेत में प्रदर्शन किया था उन्होंने बताया कि बीज उपचार जरूर करना चाहिए। उन्होंने कृभकों के उत्पादों का प्रयोग करने की सलाह दी। मौके पर मिट्टी परीक्षण नमूने लेने की विधि के बारे में जानकारी दी। अंत में कृभकों द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया। । दतिया, जैविक खाद, कृषक http://www.dprmp.org/PHOTO_2015/FEB18/datia8220186b.jpg दतिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − thirteen =